अब शादी समारोह में नहीं परोसा जाएगा माँसाहरी भोजन, दहेज प्रथा पर भी लगेगा प्रतिबन्ध…

CGP,NEWS…बस्तर-  बस्तर जिला सुंडी समाज की बैठक रविवार को संभाग मुख्यालय से पांच किमी दूर बिलौरी ग्राम पंचायत में हुई। पांच घंटे तक चली बैठक में समाज के वरिष्ठ सदस्यों ने विलुप्त होने की कगार पर पहुंच गई अपनी अच्छी परंपराओं को संरक्षित करने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि जैसे-जैसे समय बीत रहा है वैसे-वैसे लोग अपनी परंपराओं व रीति-रिवाजों से दूर हाे रहे हैं।

शिक्षा, स्वास्थ्य और समाज की परंपराओं पर चर्चा करने के साथ पदाधिकारियों ने यह निर्णय लिया कि अब शादी व सामाजिक कार्यक्रमों में मांसाहार नहीं परोसा जाएगा। दहेज प्रथा को एक कलंक बताते हुए बंद करने की बात कही। समाज के अध्यक्ष रामकेशरी सेठिया ने कहा कि आने वाले दिनों में होने वाली शादियों का पंजीयन किया जाएगा। इस काम में कोई परेशानी न हो इसके लिए एक समिति गठित की जाएगी। बैठक में संरक्षक शेरसिंह सेठिया, विश्वनाथ, सीताराम सेठिया, जिला सचिव महेंद्र सेठिया, कमल सेठिया, महेश सेठिया, खगपति सेठिया, राधे सेठिया, मुरली, किशन के साथ समाज के पदाधिकारी और सदस्य बड़ी संख्या में मौजूद रहे।

जगदलपुर. बैठक के दौराम मौजूद सुंडी समाज के लोग

महिलाएं भी शामिल होंगी संगठन के चुनाव में

बैठक में समाज को संगठित और मजबूत करने के लिए जिला बाॅडी का चुनाव जल्द कराने पर चर्चा की गई। इस पर समाज के वरिष्ठ सदस्यों द्वारा 3 जून को चुनाव कराने के बाद ब्लाक स्तरीय चुनाव कराने का निर्णय लिया गया। चुनाव में महिलाओं की भागीदारी सुनिश्चित करने का भी निर्णय लिया गया है। समाज का युवा प्रभाग भी गठित किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 × 4 =