दो बेटी खो चुके अब बड़ी बेटी के लिए दिल्ली जाएंगे…

CGP.NEWS… बालोद- 9 साल की बेटी, नाम दिव्यानी ठाकुर, दल्लीराजहरा शहीद चौक मूल निवासी केवट नवागांव (अर्जुन्दा)| बेटी होर्नर सिंड्रोम नामक बीमारी से पीड़ित है। जिसके इलाज में लगभग 15 लाख रुपए का खर्च आएगा।

पिता रोजी मजदूरी कर महीने के 5 से 7 हजार रुपए ही कमा पाते हैं। परिवार बेटी के इलाज के लिए दर-दर भटक रही थी। जिन्हें संजीवनी सहायता कोष के जरिए शासन से मदद दिलाने के लिए दल्लीराजहरा के डोनेट ब्लड ग्रुप व सुमित फाउंडेशन के युवाओं ने पहल की। जल्द ही बेटी का इलाज दिल्ली के एम्स अस्पताल में होगा। सोमवार को बेटी को लेकर पिता महेंद्र ठाकुर दल्ली से दिल्ली जाएंगे। इसके पहले ग्रुप के लोगों ने सीएम डॉ. रमन सिंह की प|ी वीणा सिंह से मुलाकात कर मदद की मांग की थी। बेटी की हालत देख सीएम की प|ी वीणा सिंह ने आश्वस्त किया है कि उनके इलाज का अधिकतम खर्च सरकार वहन करेगी।

दिल्ली पहुंचने के बाद वहां छत्तीसगढ़ भवन में शासकीय कर्मी उन्हें लेने आएंगे। अस्पताल में भर्ती कराने से इलाज तक मदद करेंगे। संजीवनी कोष के तहत उनका आवेदन स्वीकार कर लिया गया है। जल्द ही फंड जारी होगा।

चार साल की थी तब से थमा विकास: पिता महेंद्र ने बताया कि कक्षा दूसरी में पढ़ रही बेटी दिव्यानी जब 4 साल की थी, तब से उसके शरीर का विकास थम गया। बीमारी का पता लगाने में ही तीन साल लगे। कई डॉक्टरों को दिखाया पर वे मर्ज नहीं समझ पाए। रायपुर के एम्स अस्पताल के डॉक्टर अतुल जिंदल ने इस बीमारी का नाम होर्नर सिंड्रोम बताया।

होर्नर सिंड्रोम नामक बीमारी से ग्रसित बेटी का दिल्ली में होगा इलाज

एक बेटी की 8 माह में हुई थी मौत

महेंद्र ठाकुर की यह बड़ी बेटी है। इसकी पहले दो बेटियों की मौत हो चुकी है। एक बेटी 8 माह की थी, तब तबियत खराब होने से चल बसी। दूसरी बेटी 4 साल की थी, वह भी आकस्मिक मौत की शिकार हो गई। अब बड़ी बेटी को बचाने के लिए गरीब परिवार जुटा हुआ है।

गहने बेचने व खेत गिरवी रखने वाले थे: पिता ने कहा खेत व गहने बेचने की स्थिति आ गई थी। इस बीच उनकी मुलाकात दल्ली में पवन सोनी से हुई। जिन्होंने रायपुर जाने का मार्गदर्शन दिया।

यह है होर्नर सिंड्रोम: आईएमए अध्यक्ष डॉ. प्रदीप जैन ने बताया होर्नर सिंड्रोम अस्थि मज्जा(बोन मैरो) की बीमारी है। यह पैदाइशी होती है। इससे शरीर का विकास नहीं हो पाता।

इलाज में करेंगे मदद: सुमित फाउंडेशन के जिला प्रभारी पवन सोनी ने कहा कि दिव्यानी के इलाज में पूरी मदद करेंगे। इलाज के अलावा जो भी खर्च आएगा, उसे वहन करने चंदा करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

three × four =